ड्रग्स पिलाकर खूब चुदवाया

Tony Phoker LICK SPA Owner

By TONY PHOKER

अब में आपको मेरा सबसे जबरदस्त जंगली और खतरनाक किस्सा सुनाता हूं। मेने जीवन मे पहली बार इतना ज्यादा सेक्स किया था कि मुझे हॉस्पिटल में भर्ती होना पड़ा था। मेरा लैंड सूजन से लाल नीला हो गया था जिससे मेरे लैंड को बहुत पीड़ा हो रही थी। पूरे १९ घंटे तक मेरा लैंड खड़ा था।, मेरे लैंड में रक्त के तेज बहाव से जबरदस्त खिंचाव महसूस हो रहा था। मेरा आधा शरीर बेजान हो गया था और में तेज १०५℃ बुखार से तड़प रहा था, मेरे आंखों की रोशनी धीमी हो रही थी। उस दिन में अपनी मौत से लड़ रहा था।

एक दिन मंगलवार की सुबह मेरे एक नियमित कपल क्लाइंट ने कॉल किया था। सर् ३५ और मैडम ३६ उम्र के थे। अभी तक उन्होंने मूझसे ६ बार कपल मसाज लिया था और हमेशा पूरी रात जमके चुदाई करके लेते थे। उनकी पत्नी को doggy स्टाइल और खड़े होकर चुदवाने का बड़ा शौक था। सर् ने फ़ोन पे कहा था कि अगले महीने वेह मुम्बई आ रहे है और इस बार उनके साथ उनकी बड़ी बहन होगी और मुझे उनकी पत्नी और बहन दोनों को मसाज करना होगा और उनके साथ पूरी रात सेक्स करना होगा। उनकी बड़ी बहन को होठों की चुम्मी लेना और चुत चटवानी बहुत पसंद है और मुझे इसी बात पे ज्यादा ध्यान देना है।

सर् की बाते सुनकर मेरे भीतर कामुकिच्छा तेजी से पलपने लगी थी। में बड़े बेसबरी से उनके मुम्बई आने का इंतजार करने लगा था। में हर रोज मैडम की चुत के बारे में और सर् की बहन के बारे में सोचने लगा था। मन ही मन मे कामरूपी कल्पनाओ का गहरा जाल बुन रहा था। और आखिर वोह दिन आ ही गया जब मेरे कपल क्लाइंट मुम्बई आ गए थे। मुम्बई पोहचते ही सर् ने मुझे कॉल करके रात के ८.३०pm तक उनके होटल के रूम में आने के लिए कहा था।

अक़्सर सर् मुझे अंधेरी के होटल मे बुलाते थे, पर इस बार उन्होंने ठाणे के एक मशहूर होटल में बुलाया था। भारी ट्रैफिक के चलते मुझे देरी ना हो इसलिए में जल्दी घर से निकला था। किन्तु उनके होटल के पास ७.५०pm को ही पोहच गया था। मेने सर् को whtup पे मेसेज भेजा कि में होटल पोहच चुका हूं, जैसे आप तैयार होते है, मुझे कॉल करे, में ५ मिनट मे रूम में आऊंगा। और में सर् के कॉल का इंतजार करने लगा।

सर् ने १५ मिनट में मुझे कॉल किया और उनके रूम मे आने के लिये कहा था। में होटल के रिसेप्शन काउंटर पे ना जाते हुए सीधा लिफ्ट से सर् की रूम में दाखिल हुआ था। रूम में केवल सर् और मैडम थे। सर् की बहन कही नजर नही आई थी, मुझे लगा वाशरूम में होंगी पर वहा भी नही थे। सर् की पत्नी को मैने ६ बार जबरदस्त चोदा था, इसलिए में सर् की बहन को देखने के लिए सबसे ज्यादा बेकरार हो रहा था।

सर् ने हल्के नीले रंग का बाथरोप पहना हुआ था, मैडम गुलाबी रंग के ब्रा पैंटी मे थे और आयने के सामने बैठकर मेकअप कर रहे थे। जैसे मेने मैडम को हेलो कहा, मैडम मुस्कुराए और मुझे आँख मारी। मैडम ज्यादा बाते नही करते थे, उनको आँखों से इशारा करना खूब आता था। सर् ने मेरा हालचाल पूछा और धीरे से मेरे कानों में कहा कि आज रात मुझे २ हसीनाओं के साथ सेक्स करने का मौका मिल रहा है, मुझे पूरी रात जमके चुदाई करनी है। में मुस्कुराते हुए सर् से कहा हम सभी फुल धमाल करेंगे।

सर् मुझे वाशरूम लेकर गए, उन्होंने मेरे हाथ मे माउथ फ्रेशनर और बॉडी स्प्रेय दिया और कहा “टोनी, तुम फ्रेश हो जाओ, में तुम्हारे लिए एक बढ़िया कॉकटेल बना रहा हु”। वाशरूम के शॉवर से तेज रफ्तार से पानी आ रहा था। नहाने में बड़ा मजा आ रहा था। कुछ १५ मिनट शॉवर लेकर में बाहर आया तो देखा कि मैडम दरवाजे के सामने दीवार से लगकर खड़े थे। उनके एक हाथ मे शराब का गिलास था और दूसरा हाथ उनके कमर पे था। मैडम की आखों में मेरा इंतजार था, होठों पर मेरा नाम था और चुत मे मेरा लैंड के लिए तड़प थी। में मैडम के पास गया, अपने दोनों हाथ उनके कमर पर रखे और उनकी कोमल गर्दन को चूमने लगा था। मैडम ने मेरे कान को हल्के से काटा और कहा “I love you Tony”। मैडम मेरे चुदाई की दीवानी हुए थे।

सर् ने मुझे उनके पास बुला लिया और मेरे हाथ मे एक बड़ा सा गिलास थमा दिया, जिसमे हरे रंग की कोई शराब थी। सर् को पता था कि मे शराब नही पिता हु फिर भी मुझे शराब दे रहे थे। मेने साफ मना किया, लेकिन सर् ने कहा कि यह कोई शराब नही है, विदेशी सर्वोउत्तम कॉकटेल शरबत है, एक गिलास की कीमत करीब $५००/- है, इससे कोई नशा नही होता सिर्फ सेक्स शक्ति बढ़ती है। में मन मे सोचने लगा था, जीवन मे इतना महंगा ₹३०,०००/- का शरबत पीने का खौब कभी मन मे भी नही आया था और आज मुझे पीने मिल रहा है। वैसे भी शराब हो या शरबत हो, इसे पीने से मेरी संभोगशक्ति बढ़ेगी तो मुझे जरूर पीना चाहिए। और बिना ज्यादा सोचे में वो हरे रंग का शरबत पीने लगा था, शरबत खट्टा और बहुत कड़वा था, शरबत से दवाई, शराब और कुछ फलों की महक आ रही थी। मेने जैसे तैसे आँखे बंद करके पूरा शरबत पी लिया था।

कुछ देर बातें करने के बाद मेने सर् से कहा कि अभी हम मसाज करते है। उन्होंने कहा “टोनी आज हम मसाज नही करेंगे, थोड़ी देर मे मेरी बहन आ रही है, उसके आते ही तुम उन दोनों को किस थेरेपी देना, मसाज के लिए अगले हफ्ते तुम्हे अंधेरी में बुलाऊंगा, आज सिर्फ चुदाई होगी”। मेने हामी भरी और सर् की बहन का इंतजार करने लगा था। उनके बहन का रूम उसी होटल की दूसरी मंजिल पर था। किस थेरेपी मुझे बहुत पसंद है जिसमे में क्लाइंट के पूरे बॉडी पर बड़े प्यार से डेढ़ सारी चुम्मीया लेता हूं, पूरे शरीर के हर एक अंग को चाटता हु, चूमता हु।

शरबत पीकर पूरा १ घंटा बीत चुका था फिर भी मुझे उसका कोई असर नही हुआ था। नाही मुझे चक्कर आ रहा था और नाही मेरे शरीर मे कुछ बदलाव महसूर हो रहा था। बातें और इंतजार करकर के में उदास हो रहा था। मेने मैडम से पूछा क्या हम कुछ देर डांस करें। मुझे याद आया था, जब हम दूसरी बार मिले थे, मैडम ने मुझसे अकेले डांस करने की फरमाइश की थी किन्तु मैने उनको अपनी बाहों में लेकर डांस करवाया था। सर् ने मैडम का हाथ मेरे हाथों में दिया और अपने फ़ोन में अच्छासा रोमांटिक संगीत तलाशने लगे थे।

मैडम बिकिनी में थे और मेने सिर्फ शॉर्ट पहना हुआ था। मेने मैडम के दोनों हथेलियों को अपने हाथों में लिया और पैरों को आगे पीछे करते हुए डांस करने लगा था। मैडम की आखों में चमक, होठो पे मुस्कान थी, और मेरे आंखे हवस से उबल रही थी। फिर मैडम को कस के अपने बाहों में लिया और उनकी पीठ और पुठठो को सहलाने लगा था। बीच बीच मे मैडम की गांड को दबा रहा था और उनकी गर्दन पे चुम्मीया ले रहा था। मेरा लैंड खड़ा हो चुका था, मेने मैडम का एक हाथ पकड़के उनको एक चक्कर घुमाया और उनकी गांड को मेरे लैंड से रगड़ने लगा, साथ मे उनके पीछे खड़े रहते हुए उनके चुचियों को सहला रहा था। मैडम के ब्रा का हुक निकालने ही वाला था कि रूम की बेल बजी। सर् ने मुझे छुपने वाशरूम भेजा था।

सर् की बहन रूम में आई थी, उनको मिलने के लिए में बहुत उस्साहित हुआ था। सर् ने मुझे रूम में बुलाया और उनकी बहन से जान पहचान कराई। सर् की बहन ४० उम्र के थे, किन्तु उनके चेहरे से वो ५० उम्र के लग रहे थे। उनकी जांघो मे काफी चरबी भरी थी। उन्होंने पंजाबी ड्रेस पहना हुआ था। मेरा उस्साह थोड़ा कम होने ही लगा था कि उनकी बड़ी बड़ी चुचियों ने मुझे मोहित कर दिया था। सर् ने कहा था कि उनकी बहन को होठों की चुम्मी लेना ज्यादा पसंद है। मेने अपना पूरा ध्यान बहन के होठों पे केंद्रित किया। उनके होंठ गुलाबी और रसीले थे। चुमिया ले ले कर होंठ पूरी तरह से खिल उठें थे।

रात के १० बजे थे। सर् ने कहा की पहले हम डिनर कर लेते है फिर मजा करेंगे। और सर् ने सर्विस डिपार्टमेंट मे कॉल करके डिनर का आर्डर दिया था। मेने सर् से कहा कि जबतक वेटर डिनर लेकर आता है तबतक क्या में दिनों मैडम को किस थेरेपी दे सकता हु क्या? मैडम ने तुरंत कहा की उन्हें देखना है कि में किस तरह सर् की बहन को किस थेरेपी देता हूं। मेने बिना वक्त गवाए सर् की बहन के बदन को सहलाने लगा और उनका ड्रेस उतारने लगा था। जैसे जैसे शरीर का एक एक अंग दिखाई पड़ता वैसे वैसे उस अंग पर चुम्मीयो की बौछार करता रहा था। सर् की बहन अभी पूरे नंगे थे। आज उनकी चुदाई होने वाली थी शायद इसलिए उन्होंने केवल ड्रेस पहना था और ब्रा पैंटी उनके रूम में ही उतारके आये थे। में एक हवस के पुजारी की तरह उनकी पूरे बदन पर चुमिया लेने लगा और अपने दोनों हाथों से पूरे बदन को सहलाने लगा था। बहन कुछ ज्यादा ही गरम थी, जोर जोर से आहे लेने लगी थी। मेने उनके होठों की चुम्मी ली, जैसे मेने अपने होठ उनकी होठों पे रहा, वेह तेजी से मेरे होठो को चुसने लगे।

कसम से, पहली बार कोई औरत इस तरह मेरे होठों की चुम्मी ले रही थी। मेरे पूरे बदन में काम वासना की आग तेजी से फैलने लगी थी। में भी बड़े जोश में उनके होठों को चूमने लगा और उनकी जुबान को चुसने लगा। कुछ देर होठो को चूमने के बाद उनके चुचियो को चुसने लगा था। इतने में सर् ने मेरे शॉर्ट को थोड़ा नीचे किया और शॉर्ट उतारने कहा था। मेरा लैंड काफी सख्त हो चुका था। जैसे मेने अपनी शॉर्ट उतारी, सर् ने मेरा लैंड जोर से पकड़ा और मेरे लैंड को चुसने लगे थे।

सर् को दुसरो का लैंड चूसना और अपना लैंड चुसवाना कुछ ज्यादा ही पसंद था। सर् मेरा लैंड चूस रहे थे और में उनकी बहन की चुत चाट रहा था और मैडम बड़े मजे से हमे देख रही थी। सर् की बहन की चुत सुखी सुखी थी और काफी बड़ी फैली हुई थी। चुत चाटते वक्त मेरी नाक चुत के भीतर आसानी से जा रही थी। सर् ने २ मिनट मेरा लैंड चूसा और मैडम के पास चले गए और मैडम के गर्दन को दबोच कर उनके होंठ चूमने लगे। में चुत चाटने में मगन हो गया था। चुत की मलाई के २ बूंदे मेरी जुबान को ललचा रहे थे। में चुत के बहुत ही भीतर तक अपनी जुबान डालके अंदर की पूरी मलाई का स्वाद लेने के लिए तड़प रहा था। लगभग आधे घंटे मे रूम के बेल बजी, वेटर डिनर लेकर आया था। सर् ने मुझे और उनकी बहन को वाशरूम में छुपने भेजा।

वाशरूम में सर् की बहन और में, हम दोनों पूरे नंगे थे। में बड़े प्यार से उनकी होठो को चूम रहा था। उनके होठों का पूरा जाम चूस रहा था, और मेरे खड़े कठोर लैंड से उनकी चुत को घिस रहा था। सर् की बहन एक पल थोड़ा झुके और हलके से एक बार मेरे लैंड को चूमा और मुझे कस के गले लगे। मेने उनकी गर्दन पर अपने दाँत गड़ा दिए और मस्त मदन होके उनकी होठों को चूमने लगा था। मेरा लैंड बहुत ही सख्त हुआ था, मन कर रहा था वही सर् की बहन को जमके चोदू, उनकी चीखे निकलू। लेकिन वेटर रूम में था इसलिए बस उनके होठो को चूमता रहा।

वेटर के जाते ही सर् ने हम दोनों को रूम में बुलाया। डिनर मे चिकन हंडी, ६ पराठे, मलाई चिकन, ८ मसाला पापड़ और कोल्ड्रिंक ऑर्डर किया था। में नियमित रूप से रोज डिनर रात के ७-८pm के बीच करता हु और उसके बाद केवल दूध पीता हु। लेकिन उस दिन मेरे सामने चिकन था, मेरे मुह में पानी आ रहा था और अचानक से तेज भूक भी लगने लगी थी। मैडम ने बेड पर ही चारों के लिए डिनर की थाली सजा के रखी थी। में मन ही मन मे आशा कर रहा था कि मुझे ज्यादा चिकन खाने मिले।

डिनर करते हुए अचनाक से मुझे याद आया कि पिछले १ घंटे से लगातार मेरा लैंड खड़ा था, एक पल के लिए भी ढीला नही हुआ था। आमतौर पे इतना देर तक मेरा लैंड कभी खड़ा नही रहता है। में समज गया कि यह उस शरबत का असर है। में हद से ज्यादा खुश हो गया, अब चिकन को भूल गया और जबरदस्त चुदाई के खयाली पुलाव पर ताव मारने लगा। मेरा पूरा ध्यान डिनर से हट गया था और में बहुत बेकरार हो रहा था कि कब मुझे चोदने मिले, मेरा रोम रोम तड़प रहा था। मेरे लैंड पर तेज खुजली होने लगी थी। पहली बार ऐसा लग रहा था मानो किसी ने मेरी साँसे रोक रखी है और जबतक में चुदाई ना करु, में सास नही ले पाऊंगा।

में बहुत बेचैन हो रहा था, एक एक पल मेरे लिए बहुत ही तकलीफ दे रहा था। कुछ खाने का मन नही हो रहा था, में मन ही मन मे भगवान से प्राथना करने लगा कि जल्द से जल्द उनका डिनर खत्म हो और में मैडम की पैंटी उतारकर उनको जमके चोदने लगू। कुछ ३० मिनट बाद सबका डिनर हुआ और में तुरंत मैडम पे टूट पड़ा ।

मेने अपने दाँतो से खींचकर मैडम को पैंटी उतारी और पागलों की तरह मैडम की चुत चाटने लगा था। बाप रे, उस दिन मैडम ने उनके चुत के बाल नही निकाले थे। एक आदमी के भरी हुई दाढ़ी पे जितने लंबे और घने बाल होते है, उससे ज्यादा घने और लंबे बाल मैडम के चुत पे थे। शायद ३ महीनों से उन्होंने चुत के बाल नही निकले थे। मेने पहली बार उनके चुत पे बाल देखे थे। में बहुत ही जोश मे था, मेने ज्यादा कुछ ना सोचते हुए सीधा उनकी चुत को भीतर से चाटने लगा था। मैडम के चुत के बाल मेरे दाँतो मे अटक रहे थे, फिर भी में चुत चाटे जा रहा था। मैडम की चुत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी, चुत से मलाई की धार निकलने लगी थी। मेने चुत के भीतर से पूरी मलाई चाट के खाई और मलाई के कुछ बूंदे बालों पे थे। मेने चुत के पूरे बालों को चूस कर मलाई के हर एक बूंद को चट कर दिया था।

रूम मे एक आलीशान सोफा था। सर् ने बाथरोप उतारा और पूरे नंगे होकर सोफे पर बैठ गए और हमें देखने लगे। जब में मैडम की चुत चाट रहा था, तब सर् की बहन उनकी भाभी के होठों को चुम रहे थे। उस दिन देवरानी जेठानी का अनोखा प्यार में पहली बार देख रहा था, नजदीक से महसूस कर रहा था। मैडम के चुत का पानी निकल चुका था इसलिए में अब उनके चुचियो को चुसने लगा, मेरा लैंड मैडम के चुत के बालों में उलझ रहा था। चुत के बाल मेरे लैंड को हलके से चूबने लगे थे। मेरा बहुत मन कर रहा था कि में मैडम के होठों को बड़े प्यार से चुम लू और उनके होठों के सारा जाम पी लू, लेकिन मैडम को यह पसंद नही था और जब हम पहली बार मिले थे तभी उन्होंने साफ़ कहा था कि उनके होठों की चुम्मी लेने के बारे में सोचना भी नही, उन्हें बहुत गुस्सा आएगा। में २० मीनट तक उनके चूचिया, गर्दन, कमर को चूमने के बाद उन्हें चोदने के लिए कंडोम पहन लिया और फिर उनकी दोनों टंगे फैला कर जोर जोर से हिचके देते हुए तेजी से चोदने लगा था।

सर् की बहन हमारे पास आई और एक हाथ से मैडम के चूचिया सहलाने लगी और दूसरे हाथों से मैडम के चुत के दाने को रगड़ने लगी थी। मेने अपने होठों को उसके होठों के करीब लेकर गया और हम एक दूसरे के होठों को चुसने लगे थे। एक तरफ में तेजी से सर् की पत्नी की चुदाई कर रहा था और दूसरी तरफ सर् की बहन के होंठ चुम रहा था। फिर मेने मैडम को doggy स्टाइल पोजीशन में लिया और जबरदस्त तेज दनके देते हुए जोर जोर से चोदने लगा था। मेरा लैंड मैडम की चुत में था और अपनी २ उंगलियां मैडम की गांड में घुसेड़ रहा था। सर् ने बताया था कि उनकी शादी के २ साल बाद मैडम को गांड में उंगली डलवाना अच्छा लगने लगा था और सर् हररोज मैडम की गांड को बालों का जेल लगाकर २-३ उंगलियां गांड में डालते थे। इसलिए मैडम की गांड का छेद फैला हुआ था।

उस दिन मेने सुबह ११ बजे दूसरे कपल्स के साथ सेक्स किया था और २ बार लैंड से पानी झडा था। शायद इसलिए ३० मिनिटों से लगातार चोदते रहने के बावजूद मेरे लैंड से पानी झड़ने का कोई संकेत नही मिल रहा था। मैडम का २ बार पानी झड चुका था, पहली बार उनकी चुत चाटते वक्त और दूसरी बार उनको doggy स्टाइल में चोदते वक्त। मैडम का पानी झड़ने से उन्हें अब थकान महसूस होने लगी थी और उन्होंने मुझे उनसे दूर किया। मैडम को चोद चोद कर में पसीने से पूरी तरह भीग गया था। में तुरंत वाशरूम गया और २ मिनट शॉवर के नीचे खड़ा रहा, टॉवल से बदन पोछकर रूम में सीधे सर् की बहन के पास गया और उनकी होंठो को चूमने लगा था। मेरा लैंड अभीतक सख्त खड़ा था, हलका सा भी ढीला नही हुआ था।

“I’m Tony Phoker professional sex therapist in Lick Spa. I offer veriety of sex services including  3some, 4some, gangbang in Mumbai.”

सर् की बहन के होठों को चूमते चूमते मेरा लैंड उनकी चुत में घुस रहा था। उनकी चुत थोड़ी गीली हो चुकी थी। मेने पहले चुत के मलाई का स्वाद लेने का सोचा और सीधा उनकी चुत चाटने लगा था। चुत चाटने में बड़ा मजा आ रहा था। चुत बहुत चिकनी थी, चुत पर कोई बाल नही थे और बड़ी फैली हुई थी, जिससे में बड़े आसानी से भीतर तक चुत चाट सकता था। लगभग १५ मिनट चुत चाटने के बाद मेने कंडोम लगा लिया अपने लैंड को जोर से पकड़ के उनकी चुत को दाने को रगड़ने लगा था। सर् बहन लंबी आहे ले रहे थे। उन्होंने एक हाथ से मेरा लैंड पकड़ा और सीधा उनकी चुत में घुसा दिया, फिर क्या था। में बड़े जोर जोर से सर् की बहन को चोदने लगा था, और बीच बीच मे उनके होठो को चूम रहा था, उनकी जुबान को चूस रहा था, उनके निप्पल्स को हलके से दांतो से काट रहा था।

सर् की जांघो पर बैठकर मैडम उनका लैंड हिला रहे थे। सर् और मैडम हमारी चुदाई देखकर बड़े मजे ले रहे थे और उनकी मातृभाषा में कुछ कॉमेंट्स दे रहे थे। में समज नही पाया था कि वोह क्या कह रहे थे। मेरा पूरा ध्यान सर् की बदन को जंगली अंदाज में चोदने मे था। सर् के बहन की टांगे भारी होने से में उन्हें पुशअप स्टाइल मे जोर जोर से चोद रहा था। कुछ देर चोदने के बाद सर् की बहन बड़े जोश में आये और उन्होंने मुझे पीठ के बल लिटाया और मेरे लैंड पर बैठकर मुझे ही चोदने लगे थे। उनके पूरे शरीर का भार मेरे जांघों पर आ गया था। उनका काउगर्ल स्टाइल मे चोदना मुझे मजा कम सजा ज्यादा लग रही थी। मेरा लैंड पानी झड़ने का नाम नही ले रहा था।

पिछले ३ घंटे से मेरा लैंड खड़ा था और १ घंटे से लगातार में चुदाई कर रहा था। मेरे लैंड में तेजी से जलन होने लगी थी। सर् की बहन अब पूरे जोश में थे, चिल्ला रहे थे, जोर जोर से मेरे लैंड पर उछल रहे थे, जिससे पूरा बेड हिलने लगा था। सर् की बहन इतने उत्साहित हुए थे कि उन्होंने मेरे होंठो पे थूका और मेरे होठों को जबरदस्त चुसने लगे, मेरे होंठो को काटने लगे थे। हमारी चुदाई देख, मैडम बेड पर आए और सर् की बहन के पीठ पर बैठ गये। OMG दोनों औरते मेरे उपर थे, उनका भार मेरा हाल बेहाल कर रहा था।

फिर मैडम ने सर् की बहन को मुझसे अलग किया और मुझे गांड दिखाकर झुक गए। मेने उनकी गांड को चाटने लगा था। ५ मिनट गांड चाटने के बाद घोड़ी अंदाज में उनके गांड में लैंड घुसेड़ा और धीरे धीरे मैडम को चोदने लगा था। मैडम बेड पर doggy स्टाइल मे झुके थे, में बेड से लगकर खड़ा था और सर् की बहन ने मैडम के पीठ के आजूबाजू पैर रखकर बेड पर खड़े थे। में मैडम की गांड चोद रहा था, साथ ही साथ सर् की बहन की चुत चाट रहा था। सर् की बहन के चुत से खूब सारी मलाई टपक रही थी। उन्होंने मेरे बाल पकड़े थे और उनकी चुत को मेरे पूरे चेहरे पर घिस रहे थे।

१० मिनट तक लगातार मैडम की गांड मार रहा था, मुझे बहुत पसीना आ गया था। मेरे चेहरे और सीने से पसीना मैडम की गांड पर टपक रहा था। मेने सर् की बहन से टॉवल मांगा। टॉवल मिलते ही मेने मैडम की गांड से लैंड निकाला और उनकी चुत और गांड को एकसाथ चाटने लगा, साथ ही साथ टॉवल से अपने बदन के पसीने को पूरा अछेसे पोछने लगा था। पसीना पोछकर फिर से मैडम की गांड में जोरसे लैंड घुसाया और बड़ी बेहरमी से मैडम को चोदने लगा था। मैडम को अब दर्द होने लगा था। मैडम बोले बस हो गया, इतने मे सर् भागकर मैडम के पास आये और उन्हें मनाने लगे कि बड़ा मजा आ रहा है थोड़ी और देर उन्हें गांड की चुदाई देखनी है। सर् ने मेरे लैंड को पकड़ा और मैडम की गांड में डाल दिया। जिस पोजीशन में सर् की बहन ने खड़े होकर उनकी चुत चटवाई थी, उसी पोजीशन मे सर् बेड पर खड़े हुए और उन्होंने मेरे मुह में लैंड दिया। में एक साथ मैडम की गांड चोद रहा था और सर् का लैंड चूस रहा था।

मेरे लैंड को बहुत जलन हो रही थी और वही जलन में मैडम के गांड को देना चाहता था। इसलिए पूरा दम लगाके बड़े तेजी से मैडम की गांड चोदे जा रहा था और सर् का लैंड चूस रहा था। सर् ने उनके लैंड का पानी मेरे मुह में झड़ दिया। जोश में आकर मेने उनके लैंड का पूरा गाढ़ा पानी पी लिया और लैंड को अछेसे चूस कर साफ किया। जैसे सर् बेड से नीचे उतरे, मैडम भी बेड पर लेट गए और कहा कि अब कुछ नही, उन्हें बहुत जलन हो रही है, उनकी चुत ४ बार झड़ चुकी है। मेने सर् की बहन की तरफ देखा, उन्हें इसी मोके का इंतजार था कि कब में उन्हें चोदता हु। मुझे फिर से पसीना आ गया था।

रात के १.२० बजे थे। में मुह धोने वाशरूम चला गया, मेरे पीछे पीछे सर् और उनकी बहन वाशरूम में आये। सर् ने उनकी बहन का हाथ मेरे हाथ मे दिया और कहा कि अब उनकी बहन मेरी अमानत है, में जो चाहे, जैसे चाहे उन्हें चोद सकता हु। में उनकी बहन के साथ वाशरूम में मजे करू तबतक सर् उनकी पत्नी को मनाएंगे फिर से चुदाई करने। इतना कहकर सर् रूम मे चले गए मैडम को फिर से चुदाई के लिए राजी करने। मुझे तेज पिशाब आई थी। मेने अपने लैंड से कंडोम उतारा, मेरा लैंड नीला पड़ चुका था, लैंड पे छाले पड़ गए थे। लैंड को हलके से छूने से भी तेज दर्द हो रहा था। पिशाब रुक रुक के हो रही थी, और पिशाब करते वक्त काफी जलन हो रही थी।

सर् की बहन मेरे पीछे खड़ी थी। मेने उन्हें पूछा कि उनको क्या पसंद है। उन्होंने कहा कि उन्हें मेरे मुह मे पिशाब करनी है और थूकना है। अब तो हद हो गई थी। एक ४० वर्ष की मोटी औरत मेरे मुह में पिशाब करना चाहती है और मेरे मुह में थूकना भी चाहती है, सुनकर ही घिन आ रही थी। यहा २ घंटे से लगातार चोदने से मेरा लैंड नीला पड़ गया था, सूजा हुआ था, मुझे बहुत पीड़ा हो रही थी। नाही लैंड का पानी झड़ रहा था और नाही ढीला हो रहा था। ऐसे में उनकी इतनी घिनोनी फ़रमाईश सुनकर मुझे बुरा और अजीब लगा था। मेरा एक नियम है कि क्लाइंट्स की संतुष्टि के लिए वो सब कुछ करने का जिससे ना उन्हें कोई दिक्कत हो और ना ही मुझे कोई परेशानी हो। में बिना कुछ सोचे घुटनों के बल बैठ गया और उनकी चुत को चाटने लगा। सर् की बहन ने मुझे उठाया, मेरे मुह में २ बार थूके और मेरे होंठो को चूमने लगे थे।

में भी बड़े प्यार से सर् की बहन के होठो को चूमने लगा, होंठ चूमना और चुत चाटना यह तो में पूरे २४ घंटे लगातार कर सकता हु। मेने सर् की बहन को शॉवर के निचे लिया और उनके पूरे बदन को चूमने लगा था। अब में नीचे घुटनो के बल बैठकर उनकी चुत चाटने लगा, चुत के दाने को चूस रहा था। २ मिनट बाद उन्होंने मेरे बाल पकड़के चुत से दूर किया। में समज गया था, उन्हें मेरे मुह में पिशाब करनी थी। मेने अपना मुह बड़ा किया और उनकी पिशाब पीने लगा था। उनकी पिशाब काफी नमकीन और गरम थी। हमने साथ मे शॉवर लिया और रूम में चले गए।

सर् और मैडम शराब पी रहे थे और नमकीन स्वाद के लिए मसाला पापड़ खा रहे थे। जैसे हम रूम में गए, सर् उनकी बहन के पास गए और उन्हें कहा कि आज उन्हें उनकी गांड की चुदाई देखनी है। सर् की बहन ने जीवन मे कभी गांड की चुदाई नही कराई थी, कभी गांड में उंगली भी नही की थी। उनकी गांड का छेद काफी सख्त था। सर् ने मुझे कंडोम दिया और उनकी बहन की गांड चोदने कहा था। मेने सर् से कहा कि मेरे लैंड में बहुत दर्द हो रहा है, शरबत पीने से पिछले ४ घंटे से लैंड खड़ा का खड़ा ही है, जिससे मुझे काफी पीड़ा हो रही है। में कुछ देर बाद चुदाई करता हु।

सर् ने मेरे लैंड को कस के पकड़ा और कहा कि मेरा लैंड बहुत सख्त है अभी चुदाई में मजा आएगा। मुझे सच मे हद से ज्यादा दर्द हो रहा था, फिर भी मेने कंडोम लगा लिया और सर् की बहन की गांड को अछेसे चाटने लगा। गांड में लैंड डालने से पहले अगर हम गांड को थोड़ा चाटते है तो गांड का छेद अछेसे खुल जाता है और गांड में लैंड डालने पर ज्यादा दर्द नही होता है। में अक्सर जब किसी औरत की गांड की चुदाई करता हु, सबसे पहले उसकी गांड को अछेसे भीतर तक चाटता हु और फिर जमके गांड की चुदाई करता हु।

मेने सर् की बहन की गांड चाटने के बाद उनको doggy स्टाइल पोजीशन में लिया और गांड पर अछेसे जेल लगाकर २ उंगलिया गांड में डालकर छेद को धीरे धीरे खोल दिया और अपना लैंड बड़े प्यार से उनके गांड में डाल दिया और धीरे धीरे चोदने लगा था। सर् की बहन को काफी दर्द हो रहा था, बार बार मना कर रहे थे। मैडम ने उनके दोनों हाथ पकड़े और मुझे इशारो से कहा कि में जोर जोर से चोदू। फिर भी में धीरे धीरे चोद रहा था, मेने उनसे पूछा कि क्या में जोर से चोद सकता हु, उन्होंने कहा चोदते रहो, अच्छा लग रहा है। में जोर जोर से सर् की बहन की गांड चोद रहा था। सर् वही खड़े थे, सर् ने कहा कि पूरा लैंड बाहर मत निकालो, अंदर ही अंदर चोदते रहो। यही बात मुझे २ साल पहिले एक और औरत ने कही थी की चोदते वक्त पूरा लैंड बाहर मत निकालो।

कुछ १५ मिनिटों से सर् की बहन की गांड चोद ही रहा था कि मैडम ने फिर से doggy स्टाइल पोजीशन ली थी। में मैडम के चुत को थोड़ा चाटा और उनके चुत में लैंड डालकर तेजी से चोदने लगा था। अब मेरे सीने मे दर्द होने लगा था। ऐसा लगने लगा था कि मानो मुझे दिल का दौरा पड़ने वाला है। मुझे बहुत पसीना झूट रहा था, मेरी साँसे तेज हो गई थी। अब मेरी आत्मा, मेरा चरित्र किसी और का महसूस होने लगा था।

मेने मैडम के जांघो पर जमके २ चाटे मारे, अपने दोनों हाथों से उनकी कमर को कसके पकड़ा और बड़े तेजी से उनकी चुत चोद रहा था। अब में कुछ ज्यादा ही जोश में आया था। मेने मैडम के बाल खिंचे और जंगली अंदाज में पागलों की तरह चोदे जा रहा था। सर् की बहन मेरे सीने को सहलाने लगी। मेने उसके होंठो को कसके काटा और मदहोश होकर होंठो को चूम रहा था। मैडम की चुत अब पूरी तरह से सुख चुकी थी। हम दोनों को तगड़ा घर्षण मिल रहा था। मैडम ने मुझे रोका और वाशरूम चले गए।

मेने सर् की बहन को पकड़ा, पीठ के बल लिटाया, उनकी मोटी मोटी दोनों टंगे अपने हाथों से ऊपर उठाई और ईगल स्टाइल में जोर जोर से चोदने लगा था। अब मेरे तन मन पूरी तरह से बेकाबू हुए थे। मुझे खुद पाता नही चल रहा था कि में क्या कर रहा हु, मुझे क्या करना है, कुछ समज में नही आ रहा था। मेरे आखों के सामने अंधेरा सा छाने लगा था। में बस एक ही बात जानता था कि मुझे आज जमके चुदाई करनी है।

रात के करीब ३.१० बजे थे। लगभग १० मिनट तक लगातार सर् की बहन को चोद रहा था, मेरे शरीर से ऊर्जा कम हो रही थी। मुझे चक्कर आने लगा था, फिर भी में चोदे जा रहा था। अब उनके चुत का पानी झड़ चुका था। उन्होंने मुझे जोर से गले लगाया और फिर अपने से अलग किया। दोनों औरतो का ३-४ बार चुत झड़ चुकी थी पर मेरा एक बार भी लैंड नही झड़ा था। में वही बेड पर लेट गया।

मेरे शरीर मे जरा सी भी ऊर्जा नही बची थी। अभी तक मेरा लैंड पहले जितना ही सख्त और कठोर था। रात के ९ बजे से मेरा लैंड खड़ा था, एक पल के लिए भी ढीला नही हुआ था। मेरे लैंड के भीतर तेजी से रक्त प्रवाह बढ़ रहा था। ऐसा लग रहा था कि किसी भी वक्त मेरा लैंड फट सकता है। २ मिनट बेड पर लेटते ही में बेहोश हो गया।

सुबह के ६.४० को मुझे होश आया था। में सोफे पर लेटा हुआ था। सर् और मैडम बेड पर सोये थे, सर् की बहन उनके रूम में चली गई थी। मेरा लैंड अभी तक खड़ा था। तेज सरदर्द हो रहा था, मेने लैंड से कंडोम उतारा और पिशाब के लिए वाशरूम चला गया। मेरा लैंड लाल नीला पड़ गया था, फोरस्किन पर झाले पड़े थे। में ठीक से पिशाब भी नही कर पा रहा था। मेने जल्दी से शॉवर ली और रूम में जाकर सर् को जगाया।

सर् ने मुझे दुगनी फीस दी और अगले हफ्ते अंधेरी के हॉटेल मे आने के लिए कहा था। मेने पैसे गिने और सर् से विदा ली।

सबह के ७ बजे थे। मेने बाइक चालू की और घर की ओर निकल पड़ा। कुछ देर बाइक चलाते ही मेरे आखों के सामने अंधेरा सा छाने लगा और चक्कर भी आने लगा था। मेने नजदीक के बसस्टॉप के पास बाइक खड़ी की और थोड़ी देर वही बैठ गया। करीब २ घंटे तक वही बैठा रहा फिर भी कुछ ठीक नही लग रहा था। पास मे खड़े एक लड़के ने कहा की मेरी आँखें बहुत लाल हो चुकी है। मेने अपने बाइक के आयने में देखा, सचमे मेरी आँखें बहुत ही लाल हो चुकी थी। मेने सोचा थोड़ा नाश्ता करना चाहिए ताकि कुछ उर्जा मिले। में नजदीक के हॉटेल की तरफ चल पड़ा। ५-६ कदम चलते ही मुझे चक्कर आया और में वही गिर पड़ा था।

वहा के लोगों ने बड़ी कोशिश कर के मुझे होश में लाया और मुझे पानी पिलाया। में भाँप गया था कि मेरी हालत बहुत खराब हो चुकी है, मुझे तत्काल डॉक्टर के पास जाना होगा। मेने बाइक को एक दुकान के सामने सुरक्षित खड़ी कर दी और ऑटो से नजदीक के हॉस्पिटल में भर्ती हुआ था।

मेरी हालात अगर माँ देख लेती तो उन्हें बहुत बुरा लगता इसलिए मैंने माँ को कॉल किया और कहा कि में २ दिन के लिए दूसरे शहर जा रहा हु। नर्स ने मुझे ग्लूकोज सलाइन लगाई और कुछ गोलियां खिलाई। शाम के ४ बजे थे फिर भी मेरा लैंड खड़ा था। मेने सर् को कॉल किया और पूछा कि उन्होंने ऐसा कोनसा शरबत मुझे पिलाया की अभीतक मेरा लैंड खड़ा है। उन्होंने बताया कि शरबत में सेक्सपोवर बढ़ाने की ६ गोलियां मिलाई थी, हर एक गोली ६००mg पावर की थी। यह सुनकर मेरे पैरों तले जमीन खिसक गई। मुझे ३६००mg का ओवरडोज़ दिया गया था।

मेने हॉस्पिटल का पता सर् को मैसेज किया और मिलने बुलाया। सर् ने हॉस्पिटल आने से साफ मना किया था। पहली बार मे अपने क्लाइंट पे गुस्सा हुआ था। मेने उन्हें साफ साफ कहा कि अगर सर् हॉस्पिटल नही आते है तो में अपने ब्लूडरिपोर्ट लेकर पोलिस मे शिकायत करूँगा। आपकी यह हरकत मेरी जान पर बन आती।

सर् ३० मिनट में हॉस्पिटल पोहचे। मुझसे मिले, मुझे १०५℃ तेज बुखार आया था। मेरा पूरा शरीर ठंड के मारे कांप रहा था। मेरी हालत बहुत खराब हो चुकी थी। सर् को उनके गुन्हा का एहसास हो चुका था। उन्होंने मुझसे माफी मांगी। मेने उनसे हाथ जोड़कर गुजारिश की थी कि वेह फिर से किसी को इसतरह ड्रग्स ना दे।

बहुत सारे कपल्स सेक्स की लंबी अवधि के लिए Vigra Cialis जैसी गोलियां लेते है। इंडिया मे इसतरह की दवाइयां ९०% नकली और बनावटी होती है, जिससे स्वास्थ्य पर गहरा दुष्परिणाम होता है। हृदयविकार का खतरा बढ़ जाता हैं। में उन सब कपल्स को कहना चाहता हु की अगर आप लंबे समय तक सेक्स करना चाहते हो तो आपको वो सारे फल सब्जियां और मसाले खाने चाहिए जो जमीन के नीचे बनते है या फिर डॉक्टर की सलाह से सही मात्रा में आयुर्वेदिक दवाईया लेनी चाहिए।

उस रात मेरा हृदय बहुत ही मजबूत था, शायद इसलिए आज में जिंदा हु और अपना थोड़ा हसीन ज्यादा डरावना किस्सा लिख रहा हु। २ दिन हॉस्पिटल में गुजरने के बाद मुझे समझ आयी थी कि कोई भी क्लाइंट्स कितना ही अच्छा और नियमित हो उनसे खाने पीने की कोई भी चीज़ नही लेनी है।

में एक जवान पैलवान हु, रातभर चुदाई के लिए मुझे किसी ड्रग्स दवाई की जरूरत नही है। मेरे लैंड और जुबान में इतना दमखम है कि रातभर मस्त चुदाई और चटाई जमके कर सकते है। अगर आप कपल हो और आपको भी कुछ इसतरह जबरदस्त रातभर सेक्स करने की इच्छा है तो आप मुझे संपर्क करे। में आपके जीवन का सबसे अदभुत संतुषिपुर्ण सम्भोगक्रिड़ा अनुभव से रूबरू कराऊंगा।

मेरे मसाज सर्विस की जानकारी के लिए आप मेरी निम्नलिखित वेबसाइट देखिये और अपनी पसंद, जरूरत के मुताबिक सही थेरेपी चुनें और मुझे संपर्क करें। धन्यवाद।

Posted in: Sex

Leave a Reply